December 4, 2022

Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/u332939495/domains/bamiyanfuture.com/public_html/wp-content/themes/chromenews/lib/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 253

a
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इंटरप्राइज रिसोर्स प्लानिंगसिस्टम (Enterprise Resource Planning System) के तहत 5 सुविधाओं को ऑनलाइन कर दिया है। इससे लोगों को समय और पैसे दोनों बच सकेगा। इसके साथ ही लोग असावधानी से भी बच सकेंगे।

ग्रेटर नोएडा, जागरण डिजिटल डेस्क। आज के समय में हर कोई व्यस्त है, ऐसे में बहुत से काम ऑनलाइन सुविधाओं के जरिये निपटाए जा सकते हैं। ऐसे में अगर आप देश की राजधानी दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में रहते हैं तो यह खबर आपके बेहद काम की है।
बचेगा पैसा और समय
दरअसल, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) ने पांच ऐसी जरूरी सुविधाएं ऑनलाइन के जरिये मुहैया कराई हैं। इससे आप न केवल अपना समय और पैसा बचेंगे, बल्कि कई सारी असावधानी से भी बच जाएंगे। 

अब नहीं काटने पड़ेंगे दफ्तरों के चक्कर
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा नई सुविधा के तौर पर मोर्टगेज परिमिशन लेने के साथ उसे बंद करने के लिए दफ्तर नहीं आना पड़ेगा, यह काम लोग ऑनलाइन सुविधा के जरिये कर सकेंगे। इसी तरह फंक्शनल सर्टिफिकेट और ज्वाइंट नाम को खत्म करने के भी दफ्तर नहीं आना पड़ेगा। अब ये ऑनलाइन हो सकेंगे।
उद्यमियों को मिली राहत
गौरतलब है कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने इंटरप्राइज रिसोर्स प्लानिंगसिस्टम (Enterprise Resource Planning System) के तहत पांच सुविधाओं को ऑनलाइन कर दिया है। दरअसल, इसका फायदा उद्दयमी उठा सकेंगे।उद्यमी अब पते में बदलाव, मोर्टगेज परमिशन, नाम जुड़वाना, मॉर्टगेज परमिशन कॉलेट्रल, टाइम एक्सटेंशन फॉर लीज एंड कंस्ट्रक्शन और भुगतान से जुड़ी सूचना को ऑनलाइन के जरिये फेरबदल करवा सकते हैं।

घर बैठे बुक करें कम्यूनिट हाल
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अपने अंतर्गत आने वाले सामुदायिक केंद्रों की ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी है।  इसके साथ ही विजिटर पास मैनेजमेंट सिस्टम भी शुरू कर दिया है। अब लोग घर बैठे सामुदायिक केंद्रों की बुकिंग कर सकेंगे। इसके साथ विजिटर पास मैनेजमेंट सिस्टम कि ऑनलाइन शुरुआत होने से घर बैठे अपना फोटो सहित विजिटर पास जनरेट कर सकेंगे। 

यहां पर बता दें कि आम लोगों के लिए भी कई तरह की ऑनलाइन सुविधाएं जिला प्रशासन और बिजली विभाग द्वारा प्रदान की गई हैं। इसका फायदा लोग उठा सकते हैं। 

Copyright © 2022 Jagran Prakashan Limited.

source

Leave a Reply

Your email address will not be published.